सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

बड़ी सुन्दर सत्य कथा है ठाकुर जी महाराज की अवश्य पढ़े

 बड़ी सुन्दर सत्य कथा है l ठाकुर जी महाराज की अवश्य पढ़े

वृंदावन के जंगल में साधुओं के एक आश्रम में  जिसे कदंब खांडी, या "कदंब के पेड़ों की भीड़" के नाम से जाना जाता है। बरसाने  से 20 किलोमीटर पहले स्थित यह सत्य युग के दृश्य जैसा प्रतीत होता है। यह व्रज का एक सुंदर अछूता क्षेत्र है, जहाँ गायें आज़ाद घूमती हैं, हिरणों का खेल, और तोते और मोर हर जगह होते हैं। हम एक साधु से मिले, जिसने अपना पूरा जीवन एक बरगद के पेड़ के नीचे गुजारा, केवल दूध पर निर्वाह किया। वह एक एंथिल के बगल में सोता है, जहाँ दो बड़े काले नाग प्रतिदिन भोजन की तलाश में निकलते हैं।
💠 बड़ी सुन्दर सत्य कथा है ठाकुर जी महाराज की अवश्य पढ़े 💠
एक बार वृन्दावन में एक संत हुए कदम्खंडी जी महाराज । उनकी बड़ी बड़ी जटाएं थी। वो वृन्दावन के सघन वन में जाके भजन करते थे।एक दिन जा रहे थे तो रास्ते में उनकी बड़ी बड़ी जटाए झाडियो में उलझ गई। उन्होंने खूब प्रयत्न किया किन्तु सफल नहीं हो पाए।
और थक के वही बैठ गए और बैठे बैठे गुनगुनाने लगे।
"हे मुरलीधर छलिया मोहन
हम भी तुमको दिल दे बैठे,
गम पहले से ही कम तो ना थे,
एक और मुसीबत ले बैठे "
बहोत से ब्रजवासी जन आये और बोले बाबा हम सुलझा देवे तेरी जटाए तो बाबा ने सबको डांट के भगा दिया और कहा की जिसने उलझाई वोही आएगा अब तो सुलझाने।
बहोत समय हो गया बाबा को बैठे बैठे......
"तुम आते नहीं मनमोहन क्यों
इतना हमको तडपाते हो क्यों ।
प्राण पखेरू लगे उड़ने,
तुम हाय अभी शर्माते हो क्यों।"
तभी सामने से 15-16 वर्ष का सुन्दर किशोर हाथ में लकुटी लिए आता हुआ दिखा। जिसकी मतवाली चाल देखकर करोडो काम लजा जाएँ। मुखमंडल करोडो सूर्यो के जितना चमक रहा था। और चेहरे पे प्रेमिओ के हिर्दय को चीर देने वाली मुस्कान थी।
आते ही बाबा से बोले बाबा हमहूँ सुलझा दें तेरी जटा।
बाबा बोले आप कोन हैं श्रीमान जी?
तो ठाकुर जी बोले हम है आपके कुञ्ज बिहारी।
तो बाबा बोले हम तो किसी कुञ्ज बिहारी को नहीं जानते।
तो भगवान् फिर आये थोड़ी देर में और बोले बाबा अब सुलझा दें।
तो बाबा बोले अब कोन है श्रीमान जी ।
तो ठाकुर बोले हम हैं निकुंज बिहारी।
तो बाबा बोले हम तो किसी निकुंज बिहारी को नहीं जानते।
तो ठाकुर जी बोले तो बाबा किसको जानते हो बताओ?
तो बाबा बोले हम तो निभृत निकुंज बिहारी को जानते हैं।
तो भगवान् ने तुरंत निभृत निकुंज बिहारी का स्वरुप बना लिया। ले बाबा अब सुलझा दूँ।
तब बाबा बोले च्यों रे लाला हमहूँ पागल बनावे लग्यो!
निभृत निकुंज बिहारी तो बिना श्री राधा जू के एक पल भी ना रह पावे और एक तू है अकेलो सोटा सो खड्यो है।
तभी पीछे से मधुर रसीली आवाज आई बाबा हम यही हैं। ये थी हमारी श्री जी।और श्री जी बोली अब सुलझा देवे बाबा आपकी जटा।तो बाबा मस्ती में आके बोले लाडली जू आपका दर्शन पा लिया अब ये जीवन ही सुलझ गया जटा की क्या बात है।
।। लाडली जी की जय हो ।।राधे कृष्ण कहो प्यारे 🙏



           ❉🌹Զเधे Զเधे🌹❉








टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Google Mera Naam Kya Hai

Google Mera Naam Kya Hai | जानिए गूगल से बात कैसे करे   यदि आप गूगल से बात करना चाहते हैं तो गूगल मेरा नाम क्या है पूछने की बजाए गूगल असिस्टेंट का इस्तेमाल करना चाहिए आप यदि एंड्राइड फोन फोन यूजर है तो जीमेल आईडी जरूर बनाई होगी आपने जो  gmail id मे नाम दिया है वहीं गूगल असिस्टेंट आपको बताएगा गूगल के पास आपके बहुत सारे डेटा सेफ है आपका लाइव लोकेशन आफ साल में कितने किलोमीटर है चले हैं कितने देश घूमे हैं यह सब डाटा गूगल के पास होता है  गूगल का सबसे ज्यादा पॉपुलर प्रोडक्ट सर्च इंजन है लेकिन गूगल के अन्य कई प्रोडक्ट भी है जिससे आप बातें कर सकते हैं इसमें से एक है गूगल असिस्टेंट गूगल असिस्टेंट द्वारा आप आपको कोई भी सवाल सवाल पूछना हो तो वह आपको बोलकर आवाज मे बताएगा  गूगल असिस्टेंट से कई डिवाइस कनेक्ट करके आप कमांड देकर काम करवा सकते हैं जैसे फैन चलाना लाइट बंद करना लाइट चालू करना फोन लगाना यूट्यूब खोलना फेसबुक खोलना यह सारे कमांड बोलकर कर सकते हैं  Google Mera Naam Kya Hai | Google Assistant Setup एक बार जब आप Play Store की मुख्य स्क्रीन पर हों, तो स्क्रीन के खोज बार पर टैप करें और खोज फ़ील्

Pav Bhaji Recipe in Hindi

पाव भाजी मिक्स सब्जियों से बनाई जाती है। बच्चों को सब्जी खिलाने का यह एक आसान तरीका भी है। हम घर पर आसानी से भी बना सकते है। और खाने में भी बहुत ही टेस्टी होती है।  इसे पाव , स्लाइस ब्रेड ,रोटी या आप जिसके साथ खाना चाहे खा सकते है। आज हम भाजी को पाव के साथ खाने के लिए बनाएंगे । Pav Bhaji Recipe in Hindi Pav Bhaji Recipe in Hindi सामग्री:      2 प्याज, बारीक काटा हुआ      1 टमाटर, बारीक काटा हुआ      2-3 लाल मिर्च, बारीक काटा हुआ      1 कप शिमला मिर्च, बारीक काटा हुआ      1 कप मटर      2 आलू, छोटे क्यूब्स में काटा हुआ      2-3 लौंग      1 बड़ी इलाइची      1 छोटा चम्मच जीरा      1 छोटा चम्मच लाल मिर्च पाउडर      1 छोटा चम्मच हल्दी पाउडर      1 छोटा चम्मच धनिया पाउडर      नमक स्वाद अनुसर      2-3 बड़े चम्मच पाव भाजी मसाला      3-4 बड़े चम्मच मखान      धनिया, बारीक काटा हुआ पाव भाजी बनाने की विधि एक बार्टन में पानी उबलने के लिए रख दें। जब पानी उबलने लगे तो उसमें आलू और मटर डाल दें। उन्हें तब तक उबालें जब तक वो नरम न हो जाए। जब ये नरम हो जाए तो उसमें छान कर ठंडा पानी डाल दें और फिर उन्हें छ

Make sev Tamatar ki sabji

सेव टमाटर में आम तौर पर टमाटर के अचारी ग्रेवी को मसालों से पकाकर सेव से ढका जाता है, जो पतले, कुरकुरे बेसन के नूडल्स होते हैं। इसके विभिन्न स्वाद और ज़ायके के संयोजन से यह एक मजेदार डिश बनता है, जो पुरी या चपाती के साथ खाया जाता है। सेव टमाटर का माना जाता है कि यह गुजरात से उत्पन्न हुआ है, जो एक राज्य है जिसे उसके शाकाहारी रसोईघर की विरासत से जाना जाता है। समय के साथ, यह भारत के अन्य हिस्सों में फैल गया है और वहां के स्वाद और पसंद के अनुसार अनुकूलित हो गया है। Sev Tamatar ki sabji banane ki vidhi  सामग्री - ढाबे वाली सेव टमाटर की सब्जी रतलामी सेव टमाटर की सब्जी दूध सेव की सब्जी कैसे बनाते हैं गुजराती सेव टमाटर की सब्जी सेव टमाटर सब्जी - 2 बड़े पके हुए टमाटर, बारीकी से कटा हुआ - 1/2 कप सेव (पतले कुरकुरे बेसन के नूडल्स) - 1 बड़ा चम्मच तेल या घी - 1/2 छोटी चम्मच जीरा - 1/4 छोटी चम्मच हींग (असाफोटिडा) - 1/4 छोटी चम्मच हल्दी पाउडर - 1/2 छोटी चम्मच लाल मिर्च पाउडर (स्वाद के अनुसार बदलें) - 1/2 छोटी चम्मच गरम मसाला - 1/2 छोटी चम्मच चीनी (वैकल्पिक) - नमक स्वादानुसार - ताजा धनिया पत्तियां सजाने